Saath nibhana Saathiya season 2 || 13 December Episode Story & Facts

दोस्तों आज इस कमाल के आर्टिकल मैं आपको पढ़ने को मिलेगा कि साथ निभाना साथिया सीजन 2 के एपिसोड में क्या होगा वैसे तो आप सब जानते ही हैं कि Saath nibhana Saathiya season 2 एपिसोड में क्या चल रहा है साथ निभाना साथिया टू के और अगर आप जानना चाहते हैं आगे क्या होगा तब हमारी वेबसाइट को विजिट करते रहिए ताकि आपको लेटेस्ट अपडेट मिलती रहे और टेलीग्राम चैनल को भी ज्वाइन कर लीजिए टाइम पर अपडेट पाने के लिए।

 

 

 

Saath nibhana Saathiya season 2 full episode

 

 

बाबू बोलती है वह भी अपनी हद में रहे और मैं भी अपने अजमेरा होंगे गहना बोलती हमारे रिश्तो की कोई हद नहीं है हमें इतना प्यार आप चाहे तो मुझ पर कितना भी गुस्सा हो जाए पर यह लकीर में मिटा कर आऊंगी फिर ज्ञान आती है कपड़े लेकर और इस लकीर को मिटाने लगती है उसकी मां बोलती है कहना तो फिर से मेरे खिलाफ जा रही है लकीर को मत मिटा रुक जा कहना ज्ञाना को उसकी मां काली कर देती है और एक थप्पड़ मार देती है उसके मुंह पर सब चौक जाते हैं उसके मुंह पर थप्पड़ लगता है।

 

कोई आप दूसरी तरफ देखेंगे पुलिस स्टेशन में वह औरत आती और कहती है कि आपने मेरी बहन को यहां पर सब से अलग क्यों रखा है कॉन्स्टेबल बोलती है अरे उसका गीत दिमाग सटक गया है उससे बातें कर करके लोगों को पागल बना दिया है इसलिए कुछ वक्त के लिए उसे सबसे अलग रखा है अजीब औरतें रात दिन खाना पीना छोड़ के बस चिल्ला रही है मुझे बालिका दो मुझे बाहर निकालो फिर उनसे बोलो उसके लो कब तक पहुंचती है और कहती है।

 

चल तू से मिलने कोई आया है। मैं कॉन्स्टेबल कहती है 2 मिनट दे रही हूं अपनी बात खत्म करो और लिख दो फिर वह बोलती है कि यह आपने क्या कर लिया है अपने साथ वह बोलती है सागर फिर बोलती है कि उसने अभी तक कुछ कहा नहीं फिर बोलती है सागर को बोलना मुझे यहां आकर मिले फिर वह बोलती है कि पंकज भाई आपसे आकर क्यों मिलेगी आप दोनों को तो डाइवोर्स हो गया है ना फिर वह कहती है चुप चुप कर कितनी बार बोलूं कितनी बार बोलूं मुझे यहां से बालिकाओं निकालना निकालना तुझे याद है।

 

 

तेरी तरह में कितनी ब्यूटीफुल हुआ करती थी एकदम परफेक्ट फिगर मेकअप सब कुछ कितना परफेक्ट होता था ना पर सब गया सब खत्म हो गया मैं आज ब्यूटीफुल दिखती हो ना बोलना ब्यूटीफुल दिखती हो ना चिल्लाने लगती है लगती है लगती है कि मैं ब्यूटीफुल हूं फिर वह नीचे बैठ कर रोने लगती है वही आप दूसरी तरफ देखते हैं कि उसकी बोलती है कि तेरी हिम्मत कैसे हुई मेरे मना करने पर भी लकीर कैसे मिटाई तूने या किसने दिया तुझे गाना बोलती है।

 

कि आपके प्यार ने आप मेरी बात जैसी है बच्चा जब मां के सामने कोई जिद करता है जिद को पूरी करता है तो मैं उसे गुस्से में दो थप्पड़ भी मार दी थी बाप के इस थप्पड़ से मुझे दर्द नहीं हुआ बल्कि मुझे खुशी मिली गुस्सा भी तो हम उसी पर करते हैं ना जिसके लिए दिल में प्यार होता है तो आप मुझे नापा 10th पढ़ लीजिए और 2 भी लकीर मिटा कर रहूंगी आप प्लीज वह अपने बच्चे को माफ कर दीजिए ना बा बोलते हैं कि प्रतियोगिता के लिए देर हो रही है।

 

सभी लोग तैयार हो जाओ और फिर आ जाना फिर वहां से चली जाती है क्या कर फिर सुरा अपनी मां से बोलती है कि गाना तुम कुछ भी कर लो यह ओल्डी गोल्डी नहीं पटने वाली तुमसे है ना मम्मी फिर उसकी मां बोलती है कि मूर्ख है तो मूर्ख देखा नहीं तूने अगेन आने बाकी दुखती रग पर हाथ रख रखा है अपनी बात भी मन वाली और लकीर भी मिटा दें बोलती है थोड़ा आप सब चली कंपटीशन में छल्ला छल्ला बोलती है मैं नहीं आ रही तू जा मैं नहीं आ रही वहां पर।

 

 

आगे के एपिसोड में क्या होगा जानने के लिए हमारी वेबसाइट का विजिट कीजिए और टेलीग्राम को चैनल को भी ज्वाइन कर लीजिए टाइम पर अपडेट पाने के लिए और ऐसे ही हमारी वेबसाइट बढ़ाते रहिए आर्टिकल को पढ़ने के लिए।

 

Thank you

Leave a Comment